12 Power Principles for Success by Bob Proctor

12 Power Principles for Success (हिन्दी)

अक्सर इस बात को लेकर लोग confusion में रहते हैं कि सफलता के लिए किन नियमों या सिद्धांतों (principles) का पालन किया जाए और किसका नहीं। अगर आप भी इन्हीं लोगों में से एक हैं तो ये summary आपके लिए है। इस किताब "12 Power Principles for Success" में हम 12 Power Principles के बारे में जानेंगे जिनका पालन दुनिया के सबसे सफल लोगों ने किया और सफलता पाई। तो देर किस बात की, अभी पढ़े।

दोस्तों हम सभी जीवन में सफलता हासिल करना चाहते हैं, लेकिन अक्सर इस बात को लेकर असमंजस (confusion) में रहते हैं कि किन नियमों या सिद्धांतों (principles) का पालन किया जाए और किसका नहीं। अगर आप भी इन्हीं लोगों में से एक हैं तो ये summary आपके लिए है।

परिचय

इस किताब में हम 12 Power Principles के बारे में जानेंगे जिनका पालन दुनिया के सबसे सफल लोगों ने किया और लेखक ने फैसला किया, क्यों न इन सिद्धांतों का एक set बनाया जाए और उन्हें एक किताब में रखा जाए।

और इसीलिए, आज हम बात करने जा रहे हैं “12 Power Principles for Success” किताब के बारे में, जो “Bob Proctor” द्वारा लिखी गई है। ये वे lessons हैं जो लेखक Proctor ने समर्पित अध्ययन, कठोर अनुप्रयोग, परीक्षण (tests) और गलतियों के अपने शानदार career के दौरान सीखे और महारत हासिल की।

जब जीवन को व्यवस्थित करने की बात आती है, तो इसे आपके अलावा कोई नहीं कर सकता। आपको अपनी सफलता हासिल करने के लिए खुद ही मेहनत करनी होगी और लेखक के 12 principles आपकी सफलता हासिल करने में आपकी मदद करेंगे। ये सिद्धांत इतने सरल हैं कि आप इन्हें तुरंत अपनी जिंदगी में लागू कर सकते हैं। तो, सभी 12 success principles का विवरण नीचे दिया गया है।

अध्याय 1. सफ़लता

सफलता प्रसन्नता की कुंजी नहीं है, खुशहाली सफलता की कुंजी है। यदि आप अपना काम प्रेम से करेंगे तो सफल होंगे – Albert Schweitzer

12 Power Principles for Success by Bob Proctor

हम सभी लोग अपने जीवन में सफलता हासिल करने के लिए पैदा हुए हैं। बस हमें जरूरत है तो सही रास्ते की, अगर आप समय रहते हैं सही रास्ते की पहचान कर लें तो आप जल्दी और आसानी से सफल हो सकते हैं। सफल होने के लिए 500 pages की किताब को पढ़ने जैसा बड़ा नहीं है, मतलब अगर आप अपना ध्यान किसी एक से बढ़कर एक चीज़ पर तुरंत लगा सकते हैं तो आप जल्दी से अपने जीवन में सफल हो सकते हैं।

सफलता एक ऐसी दिशा है जिसे पाने के लिए आप अपने जीवन में आगे बढ़ते हैं। ज्यादातर लोग अपने प्रशिक्षण (training) को पूरा करने में इतने व्यस्त रहते हैं कि वह सफल होने के लिए समय ही नहीं निकाल पाते हैं, और इसलिए बहुत से लोग असफल रह जाते हैं।

मतलब, सफल होने के लिए आपको यह तय करना होगा कि आप अपने जीवन में क्या करना चाहते हैं और फिर अपने जीवन में आगे बढ़ना है। लेखक के अनुसार, सफलता एक योग्य आदर्श की प्रगतिशील (progressive) प्राप्ति है। Progressive होने का मतलब यह नहीं है कि आपके पास जो कुछ भी है उसके लिए आप एक या दो दिन काम करें और फिर एक सप्ताह के लिए सुस्त पड़ जाएं।

मतलब, सफल होने के लिए आपको लगातार progressive तरीके से काम करना होगा। और इसकी शुरुआत सोच-विचार से करें और पता करें कि आप अपनी अपनी जिंदगी में क्या चाहते हैं, जब आप अपने लक्ष्य या उद्देश्य जानते हैं तो आप आसानी से इसके लिए काम कर सकते हैं। अपने लक्ष्यों को जानने के बाद उन पर काम करने की योजना बनाएं और सोचें कि आप अपने लक्ष्यों को कैसे हासिल कर सकते हैं।

इसका जवाब आपको अपने अंदर ही मिल जाएगा और इस बीच कई लोग ऐसे भी होंगे जो अपनी समस्याओं के कारण आपको रोकने की कोशिश करेंगे या रोकना चाहेंगे। तो इस समय रुकने पर नहीं आगे बढ़ने पर ध्यान दें, उन समस्याओं और लोगों को दूर करके अपने लक्ष्य को पूरा करने पर ध्यान दें और ऐसे ही आगे बढ़ते रहें। आख़िरकार अपने मजबूत इरादे और आत्मविश्वास से आप अपनी जिंदगी में सफल हो सकते हैं।

अध्याय 2. फ़ैसला

कोई भी निर्णय न लेने से बेहतर होगा कि कोई निर्णय ले लिया जाए, चाहे वह गलत ही क्यों न हो – Theodore Roosevelt

सफलता की शुरुआत निर्णय लेने से होती है, इसका मतलब है कि आप अपने जीवन में सफल होना चाहते हैं, इसके लिए सबसे पहला निर्णय लेना होगा कि आप अपने जीवन में क्या चाहते हैं। इसके बाद प्राप्त करने के लिए आपको क्या करना चाहिए और किस तरह करना चाहिए, इस बात का निर्णय आपको खुद ही लेना होगा। दुनिया भर के सफल लोग भी यही करते हैं, वह निर्णय लेते हैं मतलब किसी भी चीज को करने से पहले वह देखते हैं कि इसे करना जरूरी है या फिर यह मेरे लिए सबसे खराब होगा।

इस तरह सोच और समझ कर निर्णय लें और आप भी सफल लोगों के इन तरीकों का इस्तेमाल कर सकते हैं। सीधे शब्दों में कहें तो आपको निर्णय अपने समझ से लेना होगा और ऐसा करना इतना मुश्किल नहीं है, सही जानकारी से आप सही निर्णय ले सकते हैं। इसलिए किसी भी काम को करने का फैसला लेने से पहले उस काम के बारे में पूरी जानकारी जुटा लें और अगर वह काम आपके लिए फायदेमंद साबित हो तो जल्द से जल्द उस काम को करने का फैसला लें।

निर्णय  लेते  समय कभी-कभी ऐसा हो सकता है कि आपका निर्णय गलत हो जाए, इसलिए अपनी गलतियों से डरने की बजाय उन गलतियों से सीखें और आगे बढ़ें। क्योंकि जो लोग निर्णय लेते हैं वे गलती करने से नहीं डरते और इस बात का हमेशा ध्यान रखते हैं। निर्णय लेना शुरू करने के लिए, आपके पास जो कुछ भी है उसे देखें और तय करें कि आप अभी कहां हैं और आप अपने जीवन में और क्या हासिल करना चाहते हैं।

आपको निश्चित रूप से इस बात का एहसास होगा कि आप अपने जीवन में क्या चीजें चाहते हैं और उन चीजों को ध्यान में रखते हुए आगे बढ़ने का निर्णय लेंगे।यदि आप आगे बढ़ने का कोई आसान निर्णय लेते हैं तो आप clarity से सोच सकते हैं। आप अपने बेतहाशा सपनों को हकीकत में बदलना सीख सकते हैं। सबसे पहले यह तय करें कि आप क्या करना चाहते हैं।

यह आपका शुरुआती सबसे बड़ा फैसला होगा। इसके साथ ही सफल लोगों के तौर-तरीकों का अध्ययन करने का निर्णय लें, सरल शब्दों में कहें तो अपना ज्ञान बढ़ाने का निर्णय लें। अपने ज्ञान से एकत्रित जानकारी का उपयोग करें। अपने अंदर की महानता को पहचानें। और आज से ही शुरुआत करें, ध्यान रखें कि आज से बेहतर कोई समय नहीं है। तो इसे आज और अभी करें और लगातार अच्छे निर्णय लेकर अपना भविष्य बेहतर बनाएं।

अध्याय 3. जोखिम

सबसे बड़ा जोखिम (risk) है कोई जोखिम न लेना। आज की दुनिया में सब कुछ बहुत तेजी से बदल रहा है, असफलता की एक ही guarantee है, कोई भी जोखिम लेने की जरूरत नहीं है – Mark Zuckerberg

जब आप कोई अलग निर्णय लेते हैं तो सीधी सी बात है कि वह आपके रोजमर्रा के काम से थोड़ा अलग हो सकता है, जो कभी-कभी आपके लिए थोड़ा मुश्किल हो सकता है।

12 Power Principles for Success

लेकिन निर्णय लेने से ही आपको अनगिनत अवसर मिलेंगे और ये अवसर आपके जीवन में बेहतर और अच्छे परिणाम लाएंगे। इसलिए खोने से न डरें और इस अवसर का उपयोग करें। अगर आप आगे की ओर कदम बढ़ाते हैं, तो कभी कभार आपको हार का सामना करना पड़ सकता है लेकिन उस हार का मतलब यह नहीं है कि आप हमेशा के लिए हार गए है।

इसलिए अपनी पिछली हार से सीख कर आगे जीतने के लिए आगे बढ़ते रहें। आगे बढ़ने के लिए गलतियों से सीखना बहुत जरूरी होता है। हम सभी अपने जीवन में तभी आगे बढ़ सकते हैं जब हमें हारने का डर नहीं होगा और जब हम अपनी हार का सामना करना सीख लेंगे। जीवन में आप जो महान सबक सीखते हैं उनमें से कई आपकी असफलताओं से प्राप्त होंगे। किसी भी मामले में असफल होना आपको तब तक पूरी तरह से असफल नहीं बनाएगा जब तक कि आप हार न मान लें।

सफल लोग भी यही काम करते हैं, वे जोखिम लेने से कभी नहीं कतराते, वे खुद को चुनौती (challenge) देते हैं और नई चीजों का अनुभव (experience) करके अपने जीवन में आगे बढ़ते रहते हैं। अपने जीवन में लगातार आगे बढ़ने के लिए आपको चुनौतियों (challenges) का सामना करना पड़ेगा। खुद को सुरक्षित रखकर आप अपनी जिंदगी में कभी सफल नहीं हो सकते।

सफल लोग अक्सर वही होते हैं जो अपने comfort zone से बाहर निकल जाते हैं और आपको भी ऐसा ही करना होगा। अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए जोखिम जरूर उठाएं, क्योंकि जीवन में सबसे बड़ा जोखिम, जोखिम न लेने के अलावा और कुछ नहीं है। यदि आप जोखिम नहीं लेते हैं तो आप दुख और हानि से बच सकते हैं, लेकिन इस तरह से आपको अपनी गलतियों के बारे में कभी पता नहीं चलेगा, और आप यह भी कभी नहीं जान पाएंगे कि आप अपने जीवन में आगे बढ़ने के लिए क्या कर सकते हैं।

इतना कि बिना जोखिम के आप अपनी पूरी क्षमता का एहसास नहीं कर सकते क्योंकि जोखिम से बचकर आप कुछ भी नहीं सीख सकते और बिना सीखे जीवन में आगे बढ़ना नामुमकिन है। इसलिए अगर आपकी मानसिकता खुद को सुरक्षित रखने की है तो जल्द से जल्द इस मानसिकता को बदल लें और जोखिम लेने के लिए तैयार हो जाएं। ध्यान रखें कि जोखिम उठाकर आप अपने जीवन में सब कुछ बदल सकते हैं, आगे बढ़ सकते हैं, प्यार कर सकते हैं और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अपने जीवन को सही मायने में जीना सीख सकते हैं।

अध्याय 4. अटलता (persistence)

कड़ी मेहनत से सफलता मिलती है, अधिकतर लोग अपना लक्ष्य प्राप्त कर लेने पर अपने घर चले जाते हैं – Calvin Coolidge

सफल होने के लिए मजबूत इरादे का होना बहुत जरूरी है, अगर आपका इरादा मजबूत नहीं है तो संभव है कि कोई छोटी सी भी समस्या आने पर आप अपना रास्ता बदल लें, और ऐसा करने से आप अपने लक्ष्य से भटक सकते हैं। इसलिए आपको अपने लक्ष्य को पाने की राह पर मजबूती से टिके रहना है, चाहे आपके सामने कितनी भी कठिनाइयां क्यों न हों और अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए आपको कठिनाइयों को पार करना ही होगा। सीधे शब्दों में कहें तो कुछ हासिल करने के लिए समर्पण और दृढ़ संकल्प का होना बहुत जरूरी है।

जैसा कि Napoleon Hill ने अपनी किताब Think And Grow Rich में लिखा है, “दृढ़ता शब्द का कोई बड़ा अर्थ नहीं हो सकता है, लेकिन यह किसी व्यक्ति के चरित्र के लिए आवश्यक है।” Hill बिल्कुल सही थे, दृढ़ता एक अद्वितीय मानसिक शक्ति है, जो जीवन में बार-बार आने वाली बाधाओं और समस्याओं का सामना करने के लिए आवश्यक है। इस शक्ति का उपयोग करके आप अपने लक्ष्य की ओर तेजी से आगे बढ़ सकते हैं और बदलती दुनिया के साथ भी अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते हैं।

कई सफल लोगों ने अपनी जीवनियों में सफल होने के तरीकों का जिक्र किया है या यूं कहें कि दूसरे लोगों को सफल होने का रास्ता दिखाया है। इनमें से प्रत्येक महान व्यक्ति अपने लक्ष्य के प्रति जिद्दी थे। और इसी तरह मजबूत इरादे, दृढ़ निश्चय और जिद से उन्होंने अपना लक्ष्य हासिल कर लिया। और हममें से हर कोई यह कर सकता है, बस अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए दृढ़ता से काम करना होगा। आपके निरंतर प्रयास आपको उत्तम परिणाम देंगे क्योंकि ऊंचाई का आनंद ऊंचाई पर जाकर ही उठाया जा सकता है।

आप कभी भी नीचे से यह तय नहीं कर सकते कि ऊपर कैसा महसूस होता है। इसलिए ऊंचाई की कीमत समझें और ध्यान रखें कि सफल होने के लिए लगन  (Perseverance) बहुत जरूरी है।

अध्याय 5. जिम्मेदारी

जिम्मेदारी हमारी प्रतिक्रिया देने की क्षमता है। यह विश्वसनीय, भरोसेमंद और जवाबदेह होने का गुण है – John C. Maxwell

12 Power Principles for Success Book

जब आप जिम्मेदारी की बात करते हैं तो आप आजादी की बात कर रहे होते हैं। आज़ादी एक ऐसी चीज़ है जिसे बहुत से लोग अपनी जिंदगी में लाना चाहते हैं। क्या आपने कभी इस बात के बारे में सोचा है कि अपनी आजादी को चुकाने का मतलब क्या है? या फिर सच में क्या ये मुफ़्त है? हम सब सोचते हैं कि हम आज़ाद हैं, लेकिन बहुत से लोगों को इस बात का अंदाज़ा नहीं है कि वे अपने मन की सोच से कैदी बने हुए हैं।

उनका दिमाग जो कुछ करने के लिए कहता है, वह काम करता है और भी कुछ नए विचारों पर जोर ही नहीं दिया गया है, पर आप कहेंगे कि ऐसा करके भी कभी दिमाग की शक्ति को बढ़ाया नहीं जा सकता। दिमाग वह सब कुछ कर सकता है जो आप उसे करने के लिए कहते हैं, इसलिए अपने दिमाग को नियंत्रण (control) करें, इससे पहले कि आपका दिमाग आपको नियंत्रण  करना शुरू कर दें। अपने मन की कैद से बाहर निकलने के लिए जिम्मेदारी लेना शुरू करें, जब आप किसी काम को करने की जिम्मेदारी लेते हैं तो आप खुद को महत्व देना शुरू कर सकते हैं।

सफल लोग अपने हर काम की जिम्मेदारी लेते हैं और उस काम को जिम्मेदारी से पूरा करते हैं। वे अपने रास्ते में आने वाली सभी कठिनाइयों का सामना करते हुए आगे बढ़ते रहते हैं। सीधे शब्दों में कहें तो जिम्मेदारी केवल वही व्यक्ति उठा सकता है जिसे अपनी क्षमताओं पर भरोसा होता है। और जिम्मेदारी लेकर आप अपना कोई भी सपना पूरा कर सकते हैं, एक बात हमेशा याद रखें, आपकी जिंदगी सिर्फ आपकी है और इसे बदलने या आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी भी आपकी होगी।

तो आज से ही अपने हर काम और पूरी जिंदगी की जिम्मेदारी लें। और अपने आप से कहें: मैं अपने जीवन के लिए, अपनी भावनाओं के लिए और मुझे मिलने वाले हर परिणाम के लिए अधिक जिम्मेदार हूं। इसे फिर से कहें: मैं अपने जीवन, अपनी भावनाओं और मुझे मिलने वाले परिणामों के लिए जिम्मेदार हूं।

अध्याय 6. आत्मविश्वास (Confidence)

आत्मविश्वास बढ़ाने का एकमात्र तरीका वह काम करना है जिनसे आप डरते हैं – Eleanor Roosevelt

अक्सर जब आत्मविश्वास शब्द का प्रयोग किया जाता है तो जिस व्यक्ति में आत्मविश्वास नहीं होता उसे बुद्धिमान नहीं माना जाता। कई लोगों का मानना है कि आत्मविश्वास हमें जन्म से ही मिलता है। लेकिन यह समझ कुछ हद तक ही सही हो सकती है, दरअसल आप कितने आश्वस्त होंगे यह आपके काम से तय होता है।

तो अब सवाल यह है कि आत्मविश्वास क्या है और यह कैसे बढ़ता है? आत्मविश्वास एक मानसिक स्थिति है जिसे आप विकसित कर सकते हैं, लेकिन केवल तभी जब आप इसकी कीमत चुकाने को तैयार हों। मतलब हम सभी के जीवन में परेशानियां या बाधाएं आती रहती हैं और कभी-कभी हमें हार का सामना भी करना पड़ता है। लेकिन सफल होने के लिए आपको हमेशा आत्मविश्वास के साथ आगे बढ़ने पर ध्यान देना होगा, तभी आप अपना काम पूरा कर पाएंगे।

सीधे शब्दों में कहें तो, अगर आप एक सफल और सार्थक जीवन जीना चाहते हैं, तो आप आत्मविश्वास के बिना यह नहीं कर सकते। आत्मविश्वास से लोगों को आपकी क्षमता पर भरोसा होता है और वह आपकी बातों पर ध्यान देते हैं। इसलिए अपनी बात को सामने रखें और अपने सपने को पूरा करने के लिए आत्मविश्वास के साथ सबका सामना करें। ध्यान रखें कि आप अपना काम करने में बहुत अच्छे हैं और आप अपना काम बहुत सही तरीके से पूरा कर सकते हैं।

ऐसा सोचने से आपको अपनी क्षमता पर भरोसा होने लगेगा और आप आत्मविश्वास के साथ अपना काम शुरू करेंगे। आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए इन तीन चरणों का पालन करें: (1) अपनी आत्म-छवि की जाँच करें। और अपने आप को एक star के रूप में देखें।(2) अपनी ताकत को develop करें और अपनी कमजोरियों का प्रबंधन करें।(3) हर किसी में अच्छाई तलाशना।

अध्याय 7. काम करना (Action)

सफलता का मार्ग बड़ा और दृढ़ कदम उठाना है – Tony Robbins

सफल लोग कभी भी किसी के अधीन होकर काम नहीं करते और न ही किसी के समय के अनुसार काम करते हैं। वह अपना काम तभी शुरू करता है जब वह action करने के लिए तैयार होता है। कोई भी कार्य बिना किसी क्रिया के नहीं होता है और वे इस बात को अच्छी तरह से समझते हैं, यहां तक कि हमारे विचारों का जन्म या बच्चों का जन्म भी बिल्कुल उन्हीं नियमों द्वारा नियंत्रित होता है। इस संसार में बिना किसी क्रिया के कुछ भी नहीं होता।जब आप शांत हो जाते हैं और सोचते हैं, तो आपकी प्रत्येक गतिविधि एक क्रिया है।

Action एक ऐसी चीज़ है जिसमें आप पहले से ही शामिल हैं। आप कभी भी खुद को कार्रवाई करने के लिए मजबूर नहीं कर सकते, कार्रवाई हमेशा अपनी मर्जी से होती है और ऐसा ही होना चाहिए। इसलिए जब भी आप कोई action लें या अपने किसी बड़े idea पर काम करें तो इस बात की चिंता न करें कि इस idea पर काम करने से क्या हो सकता है क्योंकि ऐसा करने से आपके idea को मूर्त रूप देने में ही मदद मिलेगी।

अध्याय 8. धन

पैसे से ख़ुशी नहीं खरीदी जा सकती, लेकिन जब आप ख़ुशी की तलाश कर रहे हों तो यह आपको अधिक आरामदायक बना सकता है – Les Brown

12 Power Principles for Success Summary

हर कोई अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए काम करता है या दूसरे शब्दों में कहें तो हर कोई पैसा कमाता है। लेकिन केवल कुछ ही लोग अपने पैसे से पैसा कमाना सीख पाते हैं और सच तो यह है कि हर 100 में से 97 लोग पैसा कमाना सीखे बिना ही जीते और मर जाते हैं। उनकी यह समझ एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी तक हस्तांतरित होती रहती है। और अगर ऐसा ही चलता रहा तो आने वाले समय में हर कोई असफल हो सकता है। इसलिए उन 97% लोगों को अभी से अपना ज्ञान बढ़ाने पर ध्यान देना चाहिए।

पैसा एक ऐसा इनाम है जो आपको आपकी दी जाने वाली सेवा के लिए मिलता है। सेवा जितनी अधिक मूल्यवान होगी, पुरस्कार उतना ही अधिक होगा। सेवा नीचे दी गई है, बिना पैसा हासिल करने की कोशिश करने से लोग अक्सर गलत काम करने लगते हैं। और हमारे समाज में जो चोरी, डकैती, खून-खराबा हो रहा है, सब इसी का परिणाम है।

अगर आप चाहते हैं कि आपके पास ढेर सारा पैसा हो तो इसके लिए आपको उसके हिसाब से काम करना होगा, आपको कड़ी मेहनत करने के साथ-साथ smart तरीके से काम करने पर भी ध्यान देना होगा, क्योंकि एक rickshaw puller को भी कड़ी मेहनत करनी पड़ती है। वह काम करता है, लेकिन वह इतना पैसा नहीं कमा पाता कि अपनी सभी जरूरतों को पूरा कर सके या अपनी जिंदगी में सफल हो सके।

पैसा केवल आपकी प्रचुरता (abundance) का एक हिस्सा दर्शाता है और इसके साथ उसी तरह व्यवहार किया जाना चाहिए। यदि आप धन चाहते हैं, तो अपने जीवन के सभी क्षेत्रों में प्रचुर मात्रा में रहें। आपके जीवन में हमेशा आगे या पीछे जाने का विकल्प होता है, चुनाव हमेशा आपका होता है कि आप क्या करना चाहते हैं। अपनी जिंदगी में अधिक पैसा कमाने के लिए, तय करें कि आप कितना पैसा कमाना चाहते हैं, फिर उस पैसे के बारे में भूल जाएं और अपना सारा ध्यान सेवा पर केंद्रित करें।

हमेशा ध्यान रखें कि आपकी सेवा जितनी अधिक होगी, आपको उतना अधिक पैसा मिलेगा, इसलिए अधिक सेवा करें और अपनी जिंदगी  में अधिक पैसा प्राप्त करें। पता लगाएं कि दूसरे लोग क्या चाहते हैं और उस ज़रूरत को पूरा करने में उनकी मदद करें। इससे आप प्रचुरता का सही मतलब जानकर उन्हें अपनी ओर आकर्षित कर सकते हैं। और अंत में आप वास्तव में बहुत अधिक प्रचुर (abundant) हो सकते हैं।

अध्याय 9. लक्ष्य

यदि आपके पास कोई लक्ष्य नहीं है, तो आपको कैसे पता चलेगा कि आप सही रास्ते पर हैं – Zig Ziglar

सफल होने के लिए बड़े लक्ष्य निर्धारित करना जरूरी है। आपके लक्ष्य जितने बड़े होंगे सफलता की राह उतनी ही आसान होगी। लेकिन लोग अक्सर बड़ा लक्ष्य इसलिए छोड़ देते हैं क्योंकि उसे हासिल करने के लिए उन्हें बहुत मेहनत करनी पड़ती है। और अपनी सीमा से परे जाना, यानी अपने सुविधा क्षेत्र से बाहर निकलकर काम करना, अधिकांश लोगों के लिए असुविधाजनक होता है।

इसलिए लोग अक्सर ऐसे लक्ष्य छोड़ देते हैं जो उन्हें उनके आराम क्षेत्र से बाहर ले जा सकते हैं। लेकिन यह समझना बहुत जरूरी है कि अगर आप अपने जीवन में बड़ी जीत और सफलता हासिल करना चाहते हैं तो आपको लचीलापन सीखना होगा और आपको हर परिस्थिति के अनुसार खुद को ढालना होगा।

हर किसी का एक आराम क्षेत्र होता है जो उनकी conditioning से तय होता है। महत्वपूर्ण बात यह है कि आपको विकास और बदलाव के लिए हमेशा तैयार रहना होगा। क्योंकि अपनी जिंदगी में सफल होने के लिए आपको ऐसे काम करने पड़ सकते हैं जो आपके लिए बहुत असुविधाजनक हो। इसके बावजूद उन कार्यों को पूरा करें तभी आप अपनी जिंदगी  में सफल हो सकते हैं।

अध्याय 10. नज़रिया (Attitude)

आपके साथ जो होता है उसे आप नियंत्रित नहीं कर सकते, लेकिन जो होता है उसके प्रति आप अपने दृष्टिकोण को नियंत्रित कर सकते हैं – Charles R. Swindoll

Attitude को सबसे शक्तिशाली शब्द कहा गया है। Earl Nightingale ने कहा था कि Attitude एक जादुई शब्द है और वास्तव में यह वैसा ही है। मतलब, जब भी आपके सामने कोई नकारात्मक स्थिति आती है तो आप उस पर कैसी प्रतिक्रिया देते हैं, यह बहुत मायने रखता है।

जब आप किसी नकारात्मक स्थिति के प्रति अपने दृष्टिकोण पर नियंत्रण छोड़ देते हैं, तो आप केवल वही काम करेंगे जो आप कर सकते हैं, स्थिति पर प्रतिक्रिया करना। जब ऐसा होता है, तो आप हार जाते हैं। दूसरी ओर, यदि आप वस्तुनिष्ठ बने रहते हैं,और अगर आप अपने नकारात्मक attitude पर नियंत्रण कर लेते हैं, तो आप उस स्थिति पर सबसे अच्छी प्रतिक्रिया देते हैं।

इसके साथ ही हम नकारात्मक स्थिति को भी बदलने का काम करते हैं। अंततः ऐसा करके आप सर्वोत्तम परिणाम प्राप्त कर सकते हैं। इसी तरह, आत्मविश्वास के साथ शुरुआत करें और आप निश्चित रूप से अपनी जिंदगी  में सफल हो सकते हैं।

अध्याय 11. रचनात्मकता (Creativity)

Creativity वह देखना है जो बाकी सभी ने देखा है और वह सोचना है जो किसी और ने नहीं सोचा है – Albert Einstein

12 Power Principles for Success Hindi

हममें से अधिकांश लोग मानते हैं कि creativity केवल लेखकों, संगीतकारों, कलाकारों या अभिनेताओं के पास होती है; यहां तक कि 95 फीसदी आबादी भी खुद को रचनात्मक नहीं मानती। लेकिन उनकी यह समझ बिल्कुल भी सही नहीं है, क्योंकि कोई भी इंसान creativity के बिना पैदा नहीं होता है।

वैसे तो आपने कई बार अपनी creativity का इस्तेमाल किया होगा, लेकिन आपको इसकी जानकारी नहीं होगी। क्या आपने अपने किसी काम को जल्दी पूरा करने के लिए किसी और तरीके का इस्तेमाल किया है, अगर हां, तो अपने काम को पूरा करने के लिए वह दूसरा तरीका क्या है। सोचना आपकी creativity है। इसी प्रकार, हम सभी में creativity की शक्ति है। जिसका उपयोग करके हम अपनी जिंदगी में आगे बढ़ सकते हैं।

कुछ अलग और बेहतर सोच कर आप खुद को दूसरों से अलग बना सकते हैं और साथ ही अपनी क्षमताओं पर भरोसा करके अपनी जिंदगी में आगे बढ़ सकते हैं।हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि हर कोई creativity के साथ पैदा होता है। आपकी रचनात्मक क्षमताएं ही हैं जो आपको आगे बढ़ने की शक्ति प्रदान करती हैं। यह आपको कुशल बनाने में आपकी मदद करता है जिसके माध्यम से आप अपने पूरे जीवन को एक शानदार अनुभव में बदल सकते हैं।

बचपन में बच्चा अपनी मां को अपने पास बुलाता है। ऐसे ही बचपन में हम सभी ने ऐसे कई काम किए हैं जो हमारी creativity का सबूत देते हैं। लेकिन जैसे-जैसे हम बड़े हुए वैसे-वैसे हमने अपनी creativity का इस्तेमाल करना लगभग बंद कर दिया है। यह सब हमारे busy schedule या तनाव के कारण हो सकता है, इसके बावजूद आप अपनी creativity का इस्तेमाल कुछ अलग तरीके से सोचकर या अपने काम में कर सकते हैं।

यह करना बहुत आसान है, बस अपना काम करने के लिए एक अलग विधि का उपयोग करें। इस बारे में सोचें कि आप अपना काम तेजी से और बेहतर तरीके से कैसे कर सकते हैं। रचनात्मक होना हर किसी के लिए संभव है, आज ही शुरुआत करें और अपना काम करने का एक अलग तरीका सोचें।

अध्याय 12. संचार (Communication)

संचार लोगों से जुड़ा है, यह व्यक्तिगत और carrier की सफलता की कुंजी है – Paul J. Meyer

संचार का क्षेत्र इतना बड़ा है कि इसके माध्यम से हम हजारों अलग-अलग दिशाओं पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं। हममें से ज्यादातर लोगों को अपनी जरूरत से ज्यादा सेवा करने की आदत होती है। मतलब हम ज्यादातर अपने लिए ही काम करते हैं। लेकिन एक सफल इंसान बनने के लिए आपको अपने मूल्यों को ध्यान में रखकर काम करना चाहिए।

सफल होने के लिए आपको ऐसी सोच को अपने अंदर से निकाल देना चाहिए, जो आपको दूसरों के मूल्यों की कद्र करना नहीं सिखाती। और ऐसे मूल्य बनाएं जिससे आप दूसरों को महत्व दे सकें।मतलब आगे बढ़ने के लिए लोगों की मदद करना जरूरी है, जब आप लोगों की मदद करके आगे बढ़ेंगे तो आप आसानी से अपने जीवन में सफल हो सकते हैं। आप अपनी सेवा में सुधार करके अपनी गुणवत्ता और पुरस्कारों में सुधार कर सकते हैं।

आपकी सेवा करने का तरीका आपको अधिक सफलता प्राप्त करने में मदद करेगा।सेवा को बेहतर बनाने का सबसे आसान तरीका है अपनी भाषा को प्रभावशाली (effective) बनाना। किसी भाषा को बोलने में वास्तव में प्रभावी होने के लिए, आपको उसी भाषा में सोचना होगा। तो उस भाषा में सोचना शुरू करें जिस भाषा को आप प्रभावशाली बनाना चाहते हैं। इस प्रकार आप जिस भाषा के बारे में सोचते हैं; इसके प्रयोग से हम अधिक से अधिक लोगों की समस्याओं को समझ सकते हैं और उनका समाधान ढूंढ सकते हैं।

और इसी तरह दूसरे लोगों की मदद करके आप अपने जीवन में आगे बढ़ सकते हैं।दोस्तों इस किताब से हमने सफलता प्राप्त करने के 12 Principles के बारे में सीखा, जिसका प्रयोग करके आप अपने जीवन में मनचाही चीजें हासिल कर सकते हैं और सफल हो सकते हैं। इन 12 Principles में से सबसे प्रभावी सिद्धांत कौन सा है, जिस पर आप आज से काम करना शुरू कर देंगे, कृपया हमें comment करके बताएं।

12 Power Principles for Success किताब की समीक्षा

Bob Proctor द्वारा लिखित “12 Power Principles for Success” personal विकास के लिए एक guide है, जो आवश्यक सफलता Principles को संक्षिप्त और सुलभ तरीके से हमारे सामने रखती है। Proctor, एक अनुभवी expert, mindset के transformative प्रभाव पर जोर देते हैं, पाठकों से सकारात्मकता पैदा करने और अपने विचारों पर नियंत्रण रखने का आग्रह करते हैं।

यह किताब वास्तविक दुनिया के उदाहरणों द्वारा supported लक्ष्य-निर्धारण, दृढ़ता और law of attraction में practical insights प्रदान करती है। Proctor की प्रेरक लेखन शैली और personal जिम्मेदारी पर जोर इस किताब को उन लोगों के लिए एक valuable resource बनाता है जो अपनी क्षमता को उजागर करना चाहते हैं और जीवन के विभिन्न पहलुओं में सफलता प्राप्त करना चाहते हैं।

धन्यवाद l

Leave a Comment